7 Religious Books That Will Change You

दोस्तों आज मैं आपके लिए 7 religious books that will change you लेकर आया हु। जिसे सब को एक बार जरूर पढ़ना चाहिए। 

हमारा भारत बहुत से धर्मो से मिलकर बना है। इसलिए हमारा भारत धर्मनिरपेक्ष कहलाता है। भारत में चाहे हिन्दू हो या मुसलमान सब मिलजुल कर रहते है , और अपने भाई चारे को कायम रखते है। 

वैसे भी दुनिया का  कोई भी धर्म हो हर धरम में एक जैसे ही कानून होते है। कोई भी धरम हमें गलत राह पर चलने से रोकती है। इसलिए दोस्तों आप इन किताबों को कम से कम एक बार जरूर पढ़ना। 

कहते है न इनफार्मेशन जहाँ से मिले ले लेनी चाहिए। बिना किसी भेदभाव के , आशा करता हु आपको मेरा ब्लॉग पसंद आएगा। 

इसे पढ़ने के लिए क्लीक करें Best 5 Business Books

 

1. मनुस्मृति Manusmriti 

7 Religious Books That Will Change You
source – amazon

 

खरीदने के लिए क्लिक करे amazon 

 

मनुस्मृति मनु के नियम हैं।यह हिंदू के लिए सबसे महत्वपूर्ण धार्मिक पुस्तक है। यह सभी हिंदुओं द्वारा उनकी जाति या पंथ के अलग होने के बावजूद पालन किया जाता है। यह सभी सामाजिक वर्गों का एक कानून है। 

मनुस्मृति को ब्रह्मा, भगवान का शब्द माना जाता है। महाराजा मनु भविष्य के सभी धर्मशास्त्रों के लिए संदर्भ के दृष्टिकोण हैं जो इसके बाद आए।

 मनुस्मृति में परमपिता परमात्मा के शब्द दर्ज हैं।

 

किताब के बारे में

 

मनुस्मृति के उपदेश। अध्यात्म पर सबसे उपयोगी पुस्तक। परमपिता परमात्मा के शब्दों का रिकॉर्ड। मनु के नियम, पूर्वज। 

सभ्य मानव जाति के लिए सामाजिक आचार संहिता का पहला कोड।

 मनुस्मृति की संरचना। संसार का निर्माण। चारों वेद। प्राचीन भारत में वर्ण / जाति व्यवस्था।

 

इसमें इस तरह अध्याय शामिल हैं:

1. मनु और मनुस्मृति के बारे में विस्तृत जानकारी

2. मनुस्मृति की संरचना

3. चारों वेद

4. अछूत, जाति और वर्ना प्रणाली

5. मनुस्मृति की शिक्षाएँ (अध्याय 1-12)

मनुस्मृति एक आदर्श समाज की परियोजना है। यह एक आदर्श मानवीय आचरण को प्रस्तुत करता है।

यह एक व्यवस्थित समाज स्थापित करने के लिए एक आदर्श रूप देता है। 

यह हमें सुखी जीवन जीने के लिए सिखाता है। इसका उद्देश्य लोगों में अनुशासन का विकास करना है।

मनुस्मृति में दया, संयम, सत्यनिष्ठा, आत्म-नियंत्रण, गैर-इच्छा, ध्यान, निर्मलता, मधुरता और ईमानदारी जैसे सद्गुणों की सीख मिलती है। सभी व्यक्तियों को अपनी जाति, पंथ, वंश या धर्म के बावजूद पढ़ना और सीखना चाहिए।

पुस्तक समय की मांग है। सभी को ये पुस्तक अवश्य पढ़नी चाहिए।

 

7 religious books in india 

अपनी सोच बदलें अपना जीवन बदलें सारांश 

सोचिये और अमीर बनिये

 

2. भगवद-गीता Bhagavad Gita: Yatharoop.

Leave a Reply